आज हम आपको ट्रेन से जुड़ा एक ऐसा हादसा बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आप एक तो यकीन नहीं कर पायेंगे और दूसरा ये होगा कि इस कहानी से सीख लेकर आप भी अगली बार रेल यात्रा के दौरान थोड़ा सतर्क हो जायेंगे. दरअसल आज हम आपको जो वाकया सुनाने जा रहे हैं वो है अहमदाबाद से सुल्तानपुर जा रही अहमदाबाद सुल्तानपुर एक्सप्रेस का है. बताया जा रहा है कि ये सफर बिलकुल सामान्य ही जा रहा था कि तभी लोगों को कोच नंबर एस 6 के बाथरूम से आवाजें आनी सुनाई दी.

पहले तो लोगों को लगा आवाजें यूँ ही होंगी लेकिन जब काफी देर तक आवाजों का सिलसिला नहीं रुका तो कुछ लोगों ने बाथरूम में जा कर देखा. बाथरूम के अन्दर का नज़ारा हैरान कर देने वाला था. जी हाँ, यहाँ लोग जैसे ही अन्दर देखते हैं उन्हें नज़र आई एक महिला, जो की दर्द से कराह रही थी. बताया जा रहा है कि ये महिला ट्रेन में ही अपने पति और बचों के साथ सफर कर रही थी कि तभी वो बचों को बाथरूम कराने ले गयी थी. यहाँ ना जाने क्या हुआ कि उस महिला का पैर बाथरूम के छोटे से छेद में जा फंसा.

महिला इसी दर्द से काफी देर तड़पती रही. आखिरकार घटना के डेढ़ घंटे बाद इस नॉन-स्टॉप ट्रेन को प्लेटफार्म नंबर 1 पर रोका जाता है और गैस कटर, एक घंटे की कड़ी मशक्कत और बहुत से लोगों के साहस के बदौलत आखिरकार दर्द से तड़पती इस महिला को उस गड्ढे से बाहर निकाला गया. बताया जा रहा है कि इसके बाद महिला को डॉक्टर की टीम के साथ आगे के लिए रवाना किया गया. तो अगली बार ट्रेन में सफर के दौरान आप भी थोड़ी सतर्कता ज़रूर बरतियेगा वरना ज़रा सी चूक से  दुर्घटना हो सकता है.